Skip to main content

Posts

Showing posts from 2022

ये इमरजेंसी नहीं, अमृतमहोत्सव है! This is the polite of journalists in democracy.

 पटना। न्यूज़। केंद्र सरकार देश मे आजादी का अमृत महोत्सव मना रही है। आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर उत्सव मनाया जा रहा है। दूसरी तरफ सच लिखने वालों को जेल में बंद किया जा रहा है। उसे नंगा किया जा रहा है। ये कैसी आजादी है। 100 बातें आपकी प्रशंसा में लिखे और एक बात अप्रिय सत्य लिख दिया तो कोरे बरसा दिए। नंगा कर दिये और जेल में भेज दिया। यहां बात मध्यप्रदेश में नंगा किये पत्रकारों की नहीं हो रही। ये बात पुरानी हो गयी। बात बलिया की हो रही है जहां मैट्रिक परीक्षा में पर्चा लीक की बात लिख दी तो तीन पत्रकारों को जेल भेज दिया। 12 दिनों से पत्रकार जेल में बंद हैं। दो पत्रकार अमर उजाला के हैं तो एक राष्ट्रीय सहारा का है। बलिया में लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहा है। डीएम ने बिना एफआईआर के पत्रकारों को जेल में बंद कर दिया। ये वही बलिया है जहां के मंगल पांडेय ने स्वतंत्रता संग्राम की आग लगाई। पत्रकारों का क्रमिक संघर्ष जारी है। जाहिर है पत्रकारों को जेल में बंद करने के पीछे योगी सरकार का इशारा होगा। मध्यप्रदेश में नंगा किये गए पत्रकारों का हाल भी देख लीजिए।

अपने ऊपर हमले करने वाले को नीतीश ने किया माफ। Nitish forgives attacker

 पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर आज एक युवक ने उस समय हमला कर दिया जब वह बख्तियार पुर में आयोजित कार्यक्रम में भाग ले रहे थे।  इस बाबत जिला प्रशासन का कहना है कि बख्तियारपुर के प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी एवं समाजसेवी स्व० पं० शीलभद्र याजी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के दौरान एक व्यक्ति द्वारा सुरक्षा घेरा में घुसकर माननीय मुख्यमंत्री पर हमले का प्रयास किया गया, जिसे पकड़ लिया गया। प्रारंभिक जाँच में पाया गया कि उक्त व्यक्ति का नाम शंकर कुमार वर्मा उर्फ छोटू पिता  श्याम सुन्दर वर्मा, उम्र लगभग 32 वर्ष, अबू मोहम्मदपुर, बख्तियारपुर नगर परिषद् क्षेत्र का रहने वाला है बातचीत करने पर पता चला कि वह मानसिक रूप से अस्वस्थ है। उसके परिजनों ने बताया कि छोटू की दिमागी हालत ठीक नहीं है। कुछ साल पहले वह दो मंजिला छत से कूद गया था तथा एक बार फांसी लगाकर आत्महत्या करने का भी प्रयास कर चुका है। उसकी पत्नी छोड़कर चली गई है और अपने बच्चों के साथ अलग रहती है। सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर घटना की जाँच की जा रही है तथा जिम्मेवारी निर्धारित की जा रही है।मुख्यमंत्री  नीतीश कुमार ने उक्त व्यक्ति के विरूद

भाजपा ने सलीके से साहनी को दिखाई औकात। अब वीआईपी फटेहाल। VIP wounded for his deeds

 पटना। मुकेश साहनी ने राजनीति को उर्वर भूमि मानते हुए बिहार में बड़े बड़े विज्ञापन देकर इन्वेस्ट किया। शुरुआत में खूब पैसे खर्च किये। एनडीए को पार्टनर बनाया। भाजपा ने अपनी उंगली पकड़ाई और इस उंगली  पकड़कर साहनी ने भाजपा की गर्दन पकड़नी चाही।पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा ने अपने कोटे से 11 सीटें दी। मुकेश साहनी के ऊपर टिकट बेचने का आरोप लगा 3- 3करोड़ की बोली लगी। बेबी कुमारी ने साहनी पर टिकट बेचने का आरोप लगाया। ज्ञात हो कि पिछली बार समझौते के दौरान बेबी कुमारी की सीट बोचहा को मुकेश साहनी को दे दी गयी थी। तबसे भाजपा की नेता बेबी कुमारी बोचहा पर नजर  बैठाई थीं। इस बार उपचुनाव में भाजपा ने बोचहा सीट से बेबी कुमारी को उम्मीदवार घोषित कर दिया। मुकेश छटपटा गए और भाजपा को सबक सिखाने के लिए रमई राम की  बेटी गीता कुमारी को बोचहा से टिकट दे दिया। एनडीए में रहते हुए भाजपा से बैर मुकेश साहनी की अपरिपक्वता दर्शायी। भाजपा ने वीआईपी कोटे के तीन विधायको को अपनी पार्टी शामिल कर लिया। मुकेश की हैकरी शांत कर दी। मुकेश साहनी भी अब चंद दिनों के मंत्री हैं। मुकेश ने पहले मुम्बई फिल्मी दुनिया मे इन्वेस्ट किया। इस

बिहार के बोचहा सीट को लेकर मुकेश साहनी की नोचानोची। BJP taught lesson to Sahni

 पटना। न्यूज़। भाजपा ने बोचहा सीट से अपना अधिकृत उम्मीदवार की घोषणा कर वीआईपी नेता मुकेश साहनी की हैकरी झाड़ दी है। मुकेश साहनी ने बोचहा सीट के लिए अपनी  दावेदारी ठोकी थी और एक तरह से भाजपा को खुली चुनौती दी थी कि इस सीट अपना उम्मीदवार घोषित कर दिखाए। मुकेश साहनी ने उत्तरप्रदेश में अपने उम्मीदवार खड़े कर भाजपा को हराने के काम किया। साहनी ने बयान भी जारी किया था कि उनका मकसद भाजपा को हराना है। भाजपा ने आज बोचहा सीट से बेबी कुमारी को अपना उम्मीदवार घोषित किया है। जाहिर है साहनी भी यहां से अपना उम्मीदवार अवश्य देंगे। ऐसे में एनडीए के घटक दलों के बीच टकराहट बढ़ेगी। यह भी तय है कि या तो वीआईपी भाजपा के समक्ष सरेंडर करेगी या अलग रास्ता नापेगी। दूसरे विकल्प की अधिक उम्मीद है।

तो भाजपा के अधिकृत नेता को शिकस्त देंगे सच्चिदानन्द ! Sachidanand tries to win sentiment of Chhapra

 पटना। न्यूज़। भजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधान पार्षद सच्चिदानन्द  राय ने विधान परिषद चुनाव के लिए पार्टी से उम्मीदवार नहीं बनाए जाने पर पार्टी के अधिकृत उम्मीदवार के खिलाफ खम ठोक दिया है। उन्हें जोरदार समर्थन भी मिल रहा है। उन्होंने भावुक अपील करते हुए सोशल मीडिया पर कहा कि छपरा (सारण) के कुछ विशेष नेताओं के कुचक्र का शिकार ना हो जाऊं इसके लिए मैंने आज भी  पुनः नामांकन दाखिल किया है। कुछ लोगो को मेरी बढ़ते जनसमर्थन पसन्द नही आ रही थी, जिसके लिए वे किसी भी स्तर की ओछी राजनीति कर सकते है। मैंने विधिवत रूप से कल 14 मार्च को अपना नामांकन प्रपत्र निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में भरा था परंतु मेरे नामांकन पत्र को रद्द कराने की पुरजोर कोशिश करने की सूचना मिली, हालांकि मुझे चुनाव आयोग और प्रशासन पर भरोसा था फिर भी जनप्रतिनिधियों के दबाव में मैंने अपना पुनः नामांकन कराया है। जिस तरह पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को गुमराह कर कुछ राजनेता सारण जिले में भाजपा को कमजोर करने के लिए मुझे टिकट से वंचित कराया, उन्हें भय है कि मेरे रहते राजनीति का बाजारीकरण नहीं हो सकता , लोग जात धर्म में नही बंट सकते , इसलिये

बीजेपी चुप।विपक्ष नीतीश से मांफी मांगने पर अड़ा। Opposition demanding Nitish appology

 पटना। न्यूज़। एनडीए ने इस बार विपक्ष को बना बनाया मुद्दा दे दिया है। जिस जंगलराज व  राजद के शासनकाल को हवाला देकर बीजेपी और जदयू के नेता अपनी छवि चमकाते रहे हैं वही बीजेपी व जदयू इस बार अपने आचरण से विपक्ष के आगे बैकफुट पर है। राज्यसरकार की कोशिश है कि विपक्ष पर डोरे डाल सदन को सुचारू रूप से चला ले। अलबत्ता आज विधानसभा की कार्यवाही समय पर शुरू हो गयी। विधानसभा अध्यक्ष भी पधारे। विपक्ष की मांग पर अपना पक्ष भी रखा पर विपक्षी सदस्य मुख्यमंत्री नीतीश के वक्तव्य पर अड़े रहे। राजद सदस्यों ने नीतीश कुमार से मांफी मांगने की शर्त रख दी है। नहीं मानने पर पूरा विपक्ष सदन का बॉयकॉट किया। कार्यवाही 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी  

बिहार भाजपा नीतीश के आगे बौना! अब कुछ खेला होगा।Bihar BJP feeling demoralize before Nitish leadership

 पटना। न्यूज़। पूरे देश में भाजपा की भले जय जयकार हो रही हो पर बिहार में भाजपा के समस्त नेता नीतीश के आगे बौना महसूस कर रहे हैं। प्रदेश नेताओं की पीड़ा है कि केंद्रीय नेतृत्व नीतीश के आगे उनकी एक भी नहीं सुनता। लिहाजा भाजपा के नेता लगातार बिहार में जलालत झेल रहे हैं। प्रदेश अध्यक्ष रिलीज जारी कर नीतीश के भय से वापस ले लेते हैं। बहरहाल नीतीश व विजय सिन्हा के ताजा मामला को लेकर  प्रदेश भाजपा अंदर ही अंदर घुट रही है पर पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व के डर से आह भी नहीं प्रकट कर रही है। बिहार विधानसभा में कल जो भी हुआ वह गठबंधन के साथी के लिए ठीक नहीं है। पहली बार कोई मुख्यमंत्री विधानसभा अध्यक्ष को इतने कड़े लहजे में चेताया होगा। यह भी एक इतिहास ही है। मामला बहुत गंभीर है । यह देखना है कि भाजपा का शीर्ष नेतृत्व इस मामले को किस तरह सुलझाने की कोशिश करता है। यूपी तो भाजपा के हांथ आ गया है पर बिहार फिसलने का डर बन गया है। नीतीश के पास ऐसी बूटी है जिससे सत्ता की धुरी उनके इर्द गिर्द घूम रही है जबकि जातीय समीकरण उनके पक्ष में नहीं है। 43 सीटें लेकर भाजपा व राजद को बैकफुट पर रखे हुए हैं। कहने के लिए ब

नीतीश ने चेताया ऐसे नहीं चलेगा तो अध्यक्ष बोले आप ही बताइए कैसे चलेगा। Word war between Nitish and Vijay Sinha

 पटना। न्यूज़। विधानसभा में आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिंहा के बीच जोरदार शब्दयुद्ध छिड़ गया। दोनों की ओर से शब्दों के तीर चले। मुख्यमंत्री ने अपनी सरकार व मंत्री विजेंद्र यादव का बचाव किया और सीधे विधानसभा अध्यक्ष को चेतावनी भरे लहजे में कहा सदन ऐसे नहीं चलेगा, आप ऐसे नहीं चला सकते। मुख्यमंत्री के शब्दों पर पर भाजपा कोटे से बने विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने दो टूक शब्दों में सीएम को कहा, आप ही बता दीजिए कैसे चलेगा। मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष में करीब 10 मिनट तक शब्दों के तीर चलते रहे। मामला कुछ इस तरह का है। आज विधानसभा में भाजपा सदस्य संजय श्रावगी ने विधानसभा अध्यक्ष के क्षेत्र लखीसराय से संबंधित मामले को उठाते हुए राज्य सरकार को कानून व्यवस्था मामले में कटघरे में खड़ा कर दिया। उन्होंने कहा कि  निर्दोष को जेल मे बंद कर दिया और दोषी बाहर है। दोषी के घर की कुर्की जब्ती कब होगी।पुलिस कोई करवाई नहीं कर रही है। इस पर सरकार की तरफ से प्रभारी गृह मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि का। का। कमिटि इस बारे में जांच कर रही है। उत्तर से असंतुष्ट सदस्य

योगी को मिल गया नमो का आशीर्वाद। Yogi Adityanath going to take oath

 लखनऊ। न्यूज़। योगी आदित्यनाथ को पीएम नरेंद्र मोदी का आशीर्वाद मिल गया है। योगी आदित्यनाथ ने आज दिल्ली जाकर पीएम, पार्टी अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। पीएम ने आज फेसबुक वॉल पर कहा, आज MYogiAdityanath जी से भेंट हुई। उन्हें उत्तर प्रदेश चुनाव में मिली ऐतिहासिक जीत की बधाई दी। बीते 5 वर्षों में उन्होंने जन-आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए अथक परिश्रम किया है। मुझे पूर्ण विश्वास है कि आने वाले वर्षो में वे राज्य को विकास की और अधिक ऊंचाइयों पर ले जाएंगे।

बाबा ही आएंगे, मृणाल मयंक की भविष्यवाणी सही, सीटों की संख्या भी सटीक। Jyotish prediction comes true

नई दिल्ली। न्यूज़। एक बार फिर ज्योतिषाचार्य मृणाल मयंक की भविष्यवाणी शत प्रतिशत सही साबित हुई। बाबा तो यूपी में आये ही साथ ही सीटों की संख्या भी सटीक बैठी। यूपी चुनाव से चार पांच महीने पहले ही मृणाल मयंक ने ज्योतिष गणना के आधार पर भविष्यवाणी कर दी थी कि यूपी में योगी आदित्यनाथ ही सत्ता में आएंगे। साथ ही भाजपा को 250 से 275 सीटें मिलेंगी। मृणाल मयंक ने योगी जी का हांथ देखकर बात दिया था कि इनका शनि बहुत स्ट्रॉग है जिसे मार्च अप्रैल तक पराजित करना असंभव है। आखिर आज जब यूपी का रिजल्ट आया तो पूर्व भविष्यवाणी के अनुसार बीजेपी को उतनी ही सीटें आयीं। ज्ञात हो कि इसके पहले मृणाल मयंक ने प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सत्ता में आने संदर्भ में सटीक भविष्यवाणी की थी।

एक बार फिर ज्योतिष की गणना सटीक। योगी का योग प्रबल

 नई दिल्ली/ लखनऊ। यूपी चुनाव से चार महीने पहले ही ज्योतिषाचार्य मृणाल मयंक ने भविष्यवाणी कर दी थी कि यूपी में बाबा ही आएंगे। आज उनके गणना के इर्द गिर्द ही एग्जिट पोल का अनुमान सामने आया है। मृणाल मयंक ने योगी आदित्यनाथ का हांथ देखकर बता दिया कि बाबा का शनि बहुत स्ट्रांग है। कोई विपक्ष डिगा नहीं सकता। मृणाल मयंक ने ग्रह नक्षत्रों और औघरों के सिद्ध कथन के आधार पर भविष्यवाणी कर दी थी कि बाबा को 250 से 270 के बीच सीटें मिलेंगी। ज्ञात हो कि इसके पहले मृणाल मयंक ने केजरीवाल व ममता बनर्जी के बारे में सटीक भविष्यवाणी की थी। साथ ही वर्ष 2014 और वर्ष 2019 में नरेंद्र मोदी की पीएम पद पर ताजपोशी की भविष्यवाणी की थी। सभी सही साबित हुए। रिजल्ट के बाद योगी आदित्यनाथ ने मृणाल मयंक को बुलाया है।

पटना हाई कोर्ट ने मुंबई के सेबी अधिकारी को किया तलब। सहारा के दर्द को पटना हाई कोर्ट ने समझा। SEBI official summoned by Patna High Court

पटना ( न्यूज़): सहारा इंडिया परिवार ने मंगलवार को सहारा इंडिया परिवार के लिए मंगल निर्देश जारी कर मुंबई के जिम्मेवार सेबी अधिकारी को 28 मार्च को तालाब किया है। सहारा ने माननीय पटना हाई कोर्ट के समक्ष कहा कि सेबी के पास जो रु . 24,000 करोड़ से अधिक की धनराशि जमा है , वह सहारा ग्रुप कंपनीज़ के निवेशकों के पुनर्भुगतान के लिए है । किंतु निवेशकों को सेबी से भुगतान नहीं मिला है और यह धनराशि सेबी के पास व्यर्थ पड़ी है । विगत् 09 वर्षों में सेबी ने निवेशकों को केवल रु . 128 करोड़ का ही पुनर्भुगतान किया है । माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा पारित आदेश में समूह की अन्य कंपनियों के निवेशकों की देनदारी चुकाने के प्रति कोई रोक नहीं है । माननीय पटना उच्च न्यायालय द्वारा जारी सम्मन के अनुसरण में सहारा की ओर से न्यायालय के समक्ष उपस्थित हुए वरिष्ठ अधिवक्ता श्री उमेश प्रसाद सिंह ने एक लिखित उत्तर में यह बात कही । इसके साथ ही यह तर्क भी दिया गया कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय या किसी अन्य न्यायालय द्वारा सेबी को सहारा की दो कंपनियों के अलावा अन्य कंपनियों / सोसाइटियों के निवेशकों को पुनर्भुगतान करने से रोकने

First time SEBI on back foot. Patna High Court summoned SEBI official on Sahara strong plea

 investors out Rs . 24,000  Responsible officer from the Head office of SEBI at Mumbai be present in the Court on 28.03.2022 to answer, says Patna High Court Patna. (News). Sahara India Pariwar , on 8 th March in Patna High Court submitted that more than 24,000 Crore  are lying deposited with SEBI , for making repayment to the investors of Sahara Group Companies . However , the investors are not paid by SEBI and the money is lying idle with it . SEBI has made repayment to the investors only about Rs.128 Crores in last nine years . There is no bar in the order passed by Hon'ble Supreme Court that SEBI will not make repayment to the investors of other Group Companies . This was submitted by Shri Umesh Prasad Singh , Senior Advocate appearing before the Court on behalf of Sahara in a written response in pursuance of the summons issued by Hon'ble Patna High Court . It was also argued that there is no impediment or order passed by Hon'ble Supreme Court or any other Court restrai

यूपी में जोड़तोड़ से बीजेपी और सपा दोनों की सरकार बनने की उम्मीद!। एसपी सबसे बड़ी पार्टी। SP may emerge single largest party

 लखनऊ। न्यूज़। यूपी में सातों चरण का चुनाव हो चुका है। वास्तविक रिजल्ट तो10 मार्च को निकलेगा किन्तु रुझान के मुताबिक समाजवादी पार्टी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभर रही है।  पूर्ण बहुमत की उसे भी दरकार रहेगी किन्तु कांग्रेस व मायावती सपा की नैया पार लगा सकती हैं। अनुमान के मुताबिक यूपी की 403 सीटों में सपा को 192, बीजेपी को 187, बीएसपी को 13 और कांग्रेस को 11 सीटें मिलने की उम्मीद हैं। सपा के साथ उनके गठजोड़ के साथी शामिल हैं। यदि बीएसपी और कुछ निर्दलीय जैसे राजा भैया साथ आ जाएंगे तो फिर बीजेपी की भी सरकार बन जाएगी। अलबत्ता सपा और बीजेपी दोनों की सरकार बनने की उम्मीद है। उत्तराखंड की बात करें तो यहां भाजपा नेता खुद निराश हैं। कांग्रेस की बढ़त रहेगी। प्रथम चरण 58 सीटें। इसमें सपा व उसके गठबंधन को 36 तथा बीजेपी को 18। कांग्रेस 2 और बीएसपी 2 द्वितीय चरण 55 सीटें । सपा को 38 तथा बीजेपी को 13 सीटें। कांग्रेस 2 और बीएसपी 2 तृतीय चरण 59 सीटें। सपा को 31 । बीजेपी को 24 सीटें। बीएसपी 3 और कांग्रेस 1 चौथा चरण 60 सीटें । बीजेपी 30 सीटें और सपा को 25 सीटें। कांग्रेस 3 और बीएसपी 2 पांचवा चरण  60 सीटें।

30 फ़ीट सड़क पर 7 मंजिल से अधिक बिल्डिंग खड़ी की तो खैर नहीं। New building bylaws prohibits 7 th floor building on 30 feet wide road

पटना ( न्यूज़) बिहार भवन उप विधि 2014 में संशोधन की स्वीकृति प्रस्ताव पर पिछले दिनों  मंत्रिपरिषद् की मंजूरी मिल जाने से धोखेबाज बिल्डरों की नींद उड़ गई है। अब नए नियम का उल्लंघन हुआ तो उसका हस्र नोएडा के सुपरटेक बहुमंजिले इमारत की तरह होगा। सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर 40 मंजिले सुपरटेक बिल्डिंग गिराई जा रही है। राजधानी पटना में भी कई धोखेबाज बिल्डर जनता को ठगने में जुटे हैं।  पहले कॉलोनी बसने के नाम पर जनता को जमीन बेची और जमीन मंहगी हो जाने पर उसकी जमीन हड़पने की कोशिश कर रहे हैं। नियम कानून को तक पर रखकर बिल्डिंग खड़ी कर रहे हैं। यदि जनता कोर्ट में शिकायत ठोक दे तो ऐसी बिल्डिंग भी जमींदोज कर दी जाएंगी। पटना में एम्स के पास ऐसे कई ठग हैं। नाम भगवान का पर काम शैतान का। मोलोनी भगवान के नाम पर काम नटवरलाल का। इसकिये सावधान। हरि हरि जपने वालों से सावधान भाई! बिहार के उपमुख्यमंत्री -सह- मंत्री, नगर विकास एवं आवास विभाग  तारकिशोर प्रसाद ने बताया कि नए बिल्डिंग बायलॉज की कैबिनेट से मंजूरी मिल जाने से शहरी क्षेत्रों में निर्माण को लेकर  खासतौर पर ऊंची इमारतों के निर्माण कार्य को प्रोत्साहन मिलेगा

Patna High Court Employee Convicted by Special Excise Court Patna

Patna ( News). Special Court Excise Patna on Friday  held two accused guilty under 37(b) of Bihar Prohibition and Excise (Amendment) Act 2018 . Although quantum of punishment to be pronounced on 4.2.22 Convict Sujeet Kumar is employee of Patna High Court.During the Covid -19 period , all trials and trial under Bihar Prohibition and Excise (Amendment )Act 2018 was halted by notice issued by  Hon’ble Patna High Court and only urgent / bail matters were being heard for almost two years in Vitual / Physical cum virtual Courts .  Almost after two years, the Special Excise Court at Patna Civil Court started functioning in pure physical mode and hence the trial in cases related to Bihar Prohibition and Excise (Amendment Act) 2018 also began and gathered momentum. As a result of which final Judgment was pronounced   by Special Judge Excise (Patna) Shri  Rajiv Ranjan Kumar  today  I.e 25.2.22 in Kotwali P. S Case No 316/17, . Name of Accused - 1)Sujeet  Kumar  2) Md . Wakil Both were caught on

यूक्रेन में फंसे बिहारवासियों को बिहार लाने के लिए राज्य सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध: नीतीश.

 पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि यूक्रेन में जारी वर्तमान संकट के मद्देनजर वहां फंसे बिहारवासियों को बिहार लाने के लिए राज्य सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है। बिहार के स्थानिक आयुक्त को विदेश मंत्रालय के अधिकारियों से समन्वय कर समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है। केन्द्र सरकार ने यूक्रेन में फंसे भारतीयों को वापस लाने के लिए विशेष विमान भेजने का फैसला लिया है।  कल यूक्रेन से बिहारवासियों को लेकर दो विमानों के मुम्बई और दिल्ली में आने  की सूचना मिली है। राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि वहां से बिहार आने वाले लोगों का सम्पूर्ण किराया राज्य सरकार देगी।इसी बीच उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि  यूक्रेन और रूस के बीच जारी जंग के कारण यूक्रेन में फंसे बिहारियों की सुरक्षित वापसी के लिए बिहार सरकार हर संभव प्रयास कर रही है।  बिहार के उपमुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार सरकार के अधिकारी यूक्रेन में फंसे राज्य के छात्रों एवं नागरिकों की सुरक्षित वापसी के लिए दूतावास एवं विदेश मंत्रालय के लगातार संपर्क में हैं।     उपमुख्यमंत्री ने ऐसे कई छात्रों और नागरिकों के परिजनों से दूरभाष पर ब